ढिशुम भोजपुरी अंतरराष्ट्रीय फिल्म अवार्ड समारोह से मिला भोजपुरी को अंतरराष्ट्रीय प्लेटफॉर्म


रविवार 30 जुलाई को लंदन में आयोजित ढिशुम भोजपुरी अंतरराष्ट्रीय फिल्म अवार्ड समारोह में भोजपुरिया फिल्मी हस्तियों की मौजूदगी ने जहाँ एक ओर भोजपुरी की आवाज को गांव जवार से निकाल कर सात समन्दर पार परदेस में लाकर चर्चित कर दिया, वहीं दूसरी ओर भोजपुरी की दुनियाँ को विस्तार देते हुए अंतरराष्ट्रीय प्लेटफॉर्म दिया है। शत्रुध्न सिन्हा, गोविन्दा, रवि किशन, मनोज तिवारी, दिनेशलाल यादव निरहुआ, पवन सिंह, मालिनी अवस्थी, समीर अफताब और नायिकाओं में मधु शर्मा, पाखी हेगड़े, दिव्या देसाई, आम्रपाली दूबे, अक्षरा सिंह, अंजना सिंह, संभावना सेठ, शिविका दीवान और आइटम क्वीन सीमा सिंह आदि ने अपने नाच-गाने और अभिनय से यूके वासियों का दिल जीत लिया। समूचे भारत सहित दुनिया भर में बोली जाने वाली दुनिया की सबसे मीठी भाषा भोजपुरी और फिल्में अंतराष्ट्रीय स्तर पर पहचानी जाने लगी हैं। लंदन में पहली बार ढिशुम इंटरनेशनल भोजपुरी फिल्म अवार्ड समारोह (आईबीएफए) अपने आप में ऐतिहासिक और धमाकेदार रहा। यह भव्य समारोह 30 जुलाई को लंदन के इंडिगो 2 मे ढिशुम टीवी चैनल और अभय सिन्हा की याशी फिल्म्स द्वारा भव्य आयोजन किया गया। ढिशुम आईबीफा (भोजपुरी फिल्म अवार्ड समारोह) में एक से बढ़कर एक भोजपुरी सितारे लंदन में अपना जलवा से सबको मोहित कर दिया।.
इस अवार्ड समारोह में बेस्ट फिल्म – आशिक आवारा, इनक्रेडिबल इंडिया स्टार आफ मिलेनियम अवार्ड – मनोज तिवारी, बेस्ट एक्टर का क्रिटिक अवार्ड – रवि किशन, बेस्ट एक्टर एवं बेस्ट सिंगर पवन सिंह, बेस्ट एक्ट्रेस – मधु शर्मा, बेस्ट एक्ट्रेस व्यूअर चॉइस – अंजना सिंह, बेस्ट डायरेक्टर – असलम शेख, बेस्ट एक्टर निगेटिव – अवधेश मिश्रा, बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर – मनोज टाईगर, बेस्ट सपोर्टिंग – शुभी शर्मा, बेस्ट सेशनल डांसिंग अवार्ड सीमा सिंह, बेस्ट एक्टर इन कॉमिक रोल – सूर्या द्विवेदी, बेस्ट सिंगर – प्रियंका सिंह, संगीतकार – मधुकर आनंद, बेस्ट गीतकार – प्यारेलाल यादव, बेस्ट जोड़ी -ऑफ इयर – दिनेशलाल यादव निरहुआ और आम्रपाली, बेस्ट फिल्म पत्रकार – कुलदीप श्रीवास्तव, बेस्ट कोरियोग्राफर – कानू मुखर्जी, आईबीफा पर्सनालिटी अवॉर्ड – मधुवेन्द्र राय, आइटम क्वीन अवार्ड – सम्भावना सेठ को मिला है।
उल्लेखनीय है कि विदेशी धरती पर यह तीसरा ढिशुम अंतर्राष्ट्रीय भोजपुरी फिल्म अवार्ड (आईबीफा) समारोह है। इससे पहले मॉरीशस और दुबई में भी यह आयोजित किया जा चुका है, लेकिन दुनियाँ की पंचायत समझे जानेवाले अमेरिका व इंग्लैंड में से एक इंग्लैंड की राजधानी लंदन में रविवार को हुए इस समारोह की चर्चा भोजपुरी के दिग्गज कलाकारों की उपस्थिति से और भी चर्चित हो गयी है।
ढिशुम इंटरनेशनल भोजपुरी फिल्म अवार्ड कार्यक्रम का एक्सक्लूसिव टीवी पार्टनर ढिशुम टीवी के निर्देशक विशाल गुरनानी ने अपने सम्बोधन में कहा कि ’भोजपुरी हिन्दी के बाद भारत में बोली जाने सबसे बड़ी भाषा है। भोजपुरी में ’मैं’ नहीं ’हम’होता है। भोजपुरी को पूरे भारत सहित विश्व के हर कोने आपको भोजपुरिया मिल जाएंगे और ’का हाल बा’ से शुरूआत करेंगे और देखते ही देखते आपको अपना बना लेंगे। इन्हीं सबको देखते हुए ’ढिशुम टीवी’ चैनल भोजपुरी परंपरा और संस्कृति को अपने में समेटे हुए दर्शकों के सामने आगामी 15 अगस्त से पूरे भारत में प्रसारित किया जाएगा। ढिशुम आईबीफा का रंगारंग अवॉर्ड फंक्शन को दर्शक 27 अगस्त को ढिशुम टीवी चैनल पर लुप्त उठा सकेंगे।
बिहारी बाबु शत्रुघ्न सिन्हा अपने सम्बोधन में भोजपुरी समाज के लिए महत्वपूर्ण मैसेज में कहा ’भोजपुरी को आठवीं अनुसूची में शामिल करने की मांग की और आशा व्यक्त की सरकार जल्द ही शामिल कर देगी और उन्होंने भोजपुरीया समाज के लिए टौबेको अभिशाप है, जिसको छोड़ने के हमें शपथ लेनी चाहिए। मुंबई बिजेपी महामंत्री अमरजीत मिश्रा कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में आमंत्रित थे। उन्होंने भोजपुरी फिल्म अवार्ड को सात समुंदर पार कराने और फिल्मों की बढ़ती लोकप्रियता खुशी जाहिर की और अभय सिन्हा एवं विशाल गुरनानी को दिल से धन्यवाद दिया।’
विदित हो कि आईबीफा 2018 मलेशिया में आयोजित करने की घोषणा की गई है। सभी फिल्मी कलाकारों ने ढिशुम टीवी चैनल को अपना सहयोग देने और शानदार आगाज के लिए बधाई एवं शुभकामनायें दी।


(रामचन्द्र यादव)