‘रतिया कहां बितावला ना’ का पोस्ट प्रोडक्शन जोरों पर


इण्डियन म्यूजिक के बैनर तले निर्मित भोजपुरी फिल्म ‘‘रतियां कहां बितावला ना’’ की एडीटिंग और डबिंग रिदम स्टूडियो (वाराणसी) मंे पूर्ण कर लिया गया है। अब इस फिल्म का बैक ग्राउण्ड म्यूजिक गुरु कृपा स्टूडियो, मुंबई में किया जा रहा है। महाराष्ट्रीयन लड़की और बनारसी लड़के की खूबसूरत प्रेम कहानी है। दीक्षा पाटिल (दिया सिंह) मुंबई से बनारस घुमने जाती है और वहां के लोक गायक हीरू (समर सिंह) से प्रेम हो जाता है। दीक्षा लौटकर मुंबई आती है और फिर उसको लेने हीरू मुम्बई आता है। दीक्षा गर्भवती रहती है। हीरू को मुंबई में प्रान्तवाद का सामना करना पड़ता है। विभिन्न परिस्थितियों का सामना करते हुए दोनों प्रेमी एक हो पाते हैं या नहीं? यह फिल्म इसी तरह के ताने-बाने से गढ़ी गई है। इस फिल्म में छह गाने हैं, जो बहुत ही आकर्षक और कर्णप्रिय बनाये गये हैं। फिल्म के लेखक, निर्माता और निर्देशक अविनाश त्रिपाठी, गीत व संगीतकार आर.एस. प्रीतम, कोरियोग्राफर जे.के. तिवारी, एक्शन हीरालाल यादव, संपादक विनोद चौरसिया और छायाकार ज्ञान यादव हैं। राधेश्याम तिवारी फिल्म के सह-निर्माता हैं। इस फिल्म मंे समर सिंह (भोजपुरी प्रसिद्ध लोक गायक), रश्मि शर्मा, दीपक सिंह, साहेब लालधारी और संतोष पहलवान कलाकारों की प्रधान भूमिका है।


(समरजीत)