GobarSingh-ManojTwari

काम है गुलाब जल का, नाम है गोबर सिंह
बिहार और उत्तर प्रदेश में पहले ही मचा चुकी है हंगामा

जिस तरीके से गोबर को पवित्र माना जाता है और जिस भूमि पर वो पड़ जाता है या उसका लेपन कर दिया जाता है उस जगह को शुद्ध मान लिया जाता है. उसी तरह की पवित्र फिल्म है भोजपुरी मेगा स्टार और उत्तर पूर्व दिल्ली के भाजपा सांसद मनोज तिवारी अभिनीत फिल्म गोबर सिंह. बिहार और उत्तर प्रदेश में कामयाबी का झंडा गाड़ने के बाद अब यह भोजपुरी फिल्म ७ नवंबर से मुंबई के सभी प्रमुख सिनेमाघरों में प्रर्दशित होने जा रही है. गोबर सिंह के बारे में कहा जाता है कि आज की जो भोजपुरी फिल्में हैं उनका मुख्य मुद्दा है अश्लीलता. ये बिल्कुल अलग कहानी और चरित्र परोसता है गोबर सिंह. इस फिल्म में भोजपुरी मेगा स्टार मनोज तिवारी, नम्बर वन अभिनेत्री रिंकू घोष के साथ ही मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और जाने माने उत्तर भारतीय नेता कृपा शंकर सिंह तथा हमारा महानगर समाचार पत्र समूह के निदेशक संतोष सिंह ने भी अभिनय किया है.इस फिल्म के निर्देशक हैं भोजपुरी फिल्मों के चर्चित निर्देशक बॉबी सिंह. इस फिल्म में मनोज तिवारी का साथ दे रहे हैं रिंकू घोष, पारुल यादव, संतोष सिंह, फूल सिंह, नवल किशोर, राकेश त्रिपाठी, मोना राय, विकास सिंह वीरप्पन, प्रभुनाथ सिंह, राजेश तोमर आदि. इसके अलावा खुद निर्देशक बॉबी सिंह और महारष्ट्र के कांग्रेसी नेता कृपा शंकर सिंह भी महत्वपूर्ण भूमिका में हैं. निर्देशक बॉबी सिंह के अनुसार गोबर सिंह गांव के सीधे साधे लेकिन ही समस्या को हल करने में माहिर युवक गोबर की कहानी है जो शहर में बसे उनके गांव के ग्रामीण की समस्या के समाधान के लिए शहर पहुंच जाता है और फिर शुरू होती है जद्दोजहद. गोबर सिंह में कुल आठ गाने हैं जिन्हें संगीतबद्ध किया है लाल सिन्हा ने और स्वरबद्ध किया है श्याम देहाती और राजेश मिश्रा ने. पटकथा और संवाद के लेखक हैं राकेश त्रिपाठी और मनोज कुशवाहा. गोबर सिंह के बारे में खुद मनोज तिवारी का कहना है कि यह फिल्म पुरे परिवार के साथ बैठकर देखा जा सकता है.


(शशिकांत सिंह)

Share Button

Awadhesh-Badshah
भोजपुरी फिल्म ‘बादशाह’ की शूटिंग पिछले तीन दिनों से सिलिगुडी पर जारी है. पिछले दिन भुजियापानी ब्रिज विमान नगर में हुई शूटिंग में ठाकुर के आदमियों द्वारा गाँव के गरीब इंसान को पकड़ कर लाने और ठाकुर के खिलाफ कोर्ट में अरजी देने के लिए उस इंसान को मौत के घाट उतारने जैसे दृश्यों को फिल्माया गया.

‘बादशाह’ एक सामाजिक फिल्म है जो आजकल के युवा पीढ़ी को ध्यान में रखकर बनाई जा रही है. इस फिल्म की कहानी एक ऐसे लड़के पर आधारित है जो समाज में फैली बुराइयो और अच्छाइयों को समझ नहीं पता, उसे बुरा ही अच्छा और अच्छा बुरा लगता है जिसके कारण वह बुराइयो के दलदल में फस जाता है. और फिर वह किसी तरह इस दलदल से निकलने की कोशिश करता है और किस तरह से समाज में फैली बुराइयो को दूर करता है यही इस फिल्म का मुख्य पहलू है.

फिल्म की पूरी शूटिंग सिलिगुडी के विभिन्न लोकेशनों तथा नेपाल में अगले २०-२५ दिनों तक जारी रहेगी .फिल्म में मुख्य कलाकार सुधीर कमल ,जेनिशा केसी,अवधेश मिश्रा,तुलशा शर्मा,आर.के.गोश्वामि,सतीश साहनी ,दीपक शर्मा इत्यादि है.फिल्म के निर्माता संदीप मिश्रा,और निर्देशक शिवा साहनी है.


(संजय भूषण पटियाला)

Share Button

Nagina-Chintu
साईं दीप फिल्म्स के बैनर तले बनी राजकुमार आर.पाण्डेय की फिल्म ‘नगीना’ आज मुंबई औरत गुजरात में रिलीज़ की गई और दोनों जगह इस फिल्म को बंपर ओपनिंग मिली है .इस फिल्म में प्रदीप पाण्डेय चिंटू मुख्य किरदार निभा रहे है और उनके साथ रिंकू घोष,प्रियंका पंडित,काजल राघवानी ,संजय पाण्डेय और अन्य कई कलाकारों ने इस फिल्म में धमाकेदार अभिनय का प्रदर्शन किया है जिसे देखने के बाद दर्शको को यह फिल्म बेहद पसंद आई है .इस फिल्म में रिंकू घोष नागिन का रूप लेते हुए नजर आएंगी जो बेहद ही अद्भुद्ध् तरीके से दर्शया गया है.

यह फिल्म ‘नागिन’ का दूसरा पार्ट है .इस फिल्म की बात करे तो इस फिल्म में चिंटू धमाकेदार एक्शन तो करते नजर आएँगे पर साथ ही साथ फिल्म में दो अभिनेत्रियों के साथ रोमांस भी करते नजर आएँगे जिनमे एक है काजल राघवानी और दूसरी प्रियंका पंडित.फिल्म में काफी अच्छे गाने है और चिंटू अपनी दोनों हिरोइनो के साथ इन गानो पर थिरकते हुए नजर आएँगे .


(संजय भूषण पटियाला)

Share Button

RaviKishan-1
किसी भी व्यक्ति कें लिए उसके माता -पिता से बढ़कर दुनिया में और कुछ नहीं होता .हर बेटे के लिए माता -पिता ईश्वर के समान होते है या यूँ कहे की ईश्वर ही होते है तो इसमें कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी .हर व्यक्ति अपने जीवन के हर पल में अपने माता -पिता का साथ चाहता है और हर पल उनके प्यार प्यार को पाने को लालपित रहता है इस बात पे कोई भी बेटा इंकार नहीं कर सकता चाहे वह राजा हो या फिर फ़क़ीर हो.चाहे बड़े से बड़ा स्टार हो या फिर आम आदमी हो .यहाँ हम भोजपुरी फिल्मो के स्टार रवि किशन के बारे में बात कर रहे है ,वह दीपावली के इस मौके पर काफी खुश और उत्त्साहित नजर आ रहे है क्योंकि यह दीपावली उनके लिए खास है ,ज्ञात हो की रवि किशन की पिछले दिनों प्रदर्शित हुई फिल्मे बॉक्स-ऑफिस पर धमाल मचा चुकी है और वही रवि किशन की निजी जिंदगी में भी इस वर्ष धमाल होने वाला है क्योंकि पहली बार रवि किशन मुंबई में अपने परिवार के साथ दीपावली मनाने वाले है और इतना ही नहीं इनकी ख़ुशी इस बार दोगुनी इसलिए भी है क्योंकि इस बार उनके गृह शहर जौनपुर से उनके माता -पिता भी उनके साथ दीपावली मनाने के लिए मुंबई आए है.

रवि किशन का कहना है ”इस बार की दीपावली मेरे जीवन की सबसे यादगार दीपावली होने वाली है क्योंकि जहां एक बेटे के रूप में मेरे माता -पिता साथ होंगे वही एक पिता के रूप में मैं मेरे बच्चो के साथ रहूँगा .इस तरह ये तीन पीढ़ी एक साथ मिलकर दिवाली मनाएंगे .यह कल्पना कर के ही मैं उत्त्साहित हो रहा हूँ .” यह बात कहते हुए रवि किशन की आखे ख़ुशी से झलक गयी वही उनके चेहरे की ख़ुशी इस तरह देखि जा रही थी जैसे उनके मुख पे हजारो दीप प्रज्ज्वलित हो रहे हो.अंत में रवि किशन ने बताया की ”इस बार पुरे परिवार के साथ दीपावली मनाना एक खास अनुभव होगा.’

रवि इस बार अपनी दीपावली अपने पुरे परिवार के साथ मनाएंगे वही वह अपने दोस्तों को भी नहीं भूलेंगे और हमेशा की तरह दोस्तों को आमंत्रित भी करेंगे और उनके घर पर भी जाकर उनके दीपावली की शुभकामनाये देंगे.अंत में दीपावली के ख़ुशी के मौके पर कहा की ‘ सभी भोजपुरी फिल्म के दर्शको और पाटलिपुत्र न्यूज़ के पाठको को भी दीपावली की ढेर सारी बधाई हो,


(संजय भूषण पटियाला)

Share Button

RaviKishan-1
भोजपुरी सुपर स्टारों में अकेले रविकिशन ऐसे हैं जो ट्रेंड एक्टर हैं. बाकी गायकी के रास्ते फिल्मों में आये हैं. रविकिशन अब अपने प्रोडक्शन हाउस को मजबूत करने में लगे हुये हैं ताकि अपनी पसंद की अच्छी फिल्में बना सकें. पिछले दिनों इसी कड़ी में उन्होंने फिल्म ’पंडित जी बर्ताइं न ब्याह कब होई’ का महूर्त अपने माता-पिता के हाथों कराया. इस मौके पर उनसे हुई बातचीत के कुछ अंश :

आप एक्टर के साथ-साथ निर्माता भी बन गये. इसके पीछे कोई खास वजह? क्या अपनी मर्जी की फिल्म बनाना चाहते हैं?
बतौर एक्टर आप अन्य निर्माताओं के साथ, उनकी स्क्रिप्ट पर काम करते हैं. उसमें आपकी पसंद से ज्यादा उनकी पसंद काम करती है. यह जरूरी भी है. हर किसी का अपना-अपना आइडिया होता है. उसमें अगर मैं दखल दूं तो यह ठीक नहीं है. लेकिन क्रिटिक्स को कौन रोकेगा? वे जो देखते हैं, उसपर अपना कमेंट करते हैं. मैं उनके सुझावों पर गौर करता हूं. दरअसल वे दर्शकों की आवाज होते हैं. कभी-कभी मुझे लगता है कि कुछ फिल्में अपनी होनी चाहिये जहां आप अपने मन की बात कह सकते हैं. इसी वजह से मैंने भी अपना प्रोडक्शन हाउस खोला हुआ है. पहले भी दो फिल्में बना चुका हूं ’बिहारी माफिया’ और ’सत्यमेव जयते’. अब एक और फिल्म बना रहा हूं ’पंडितजी बताई न व्याह कब होई. इस नाम की एक फिल्म बन चुकी थी. उसमें मैं और नगमा थे. यह उसका पार्ट-2 है. इसमें मैंने एक नई लड़की को ब्रेक दिया है. वह है सिंझिनी, जो कथक गुरू पं. बिरजू महाराज की नातिन (नवासी) हैं. वह भी क्लासिकल डांसर है. फिल्म में वह गांव की लड़की है. मेरा किरदार मोटर मैकेनिक का है. यह म्युजिकल लव स्टोरी फिल्म है. इसकी शूटिंग उ. प्र. के भदोही में हो रही है और रिलीज जनवरी में होगी.

पं. बिरजू महाराज के परिवार का नाम जुड़ने से भोजपुरी को तो फायदा ही होगा?
सिनेमा चाहे किसी बोली या भाषा की हो, वह इंडस्ट्री और कला-क्षेत्र दोनों है. कोई इसमें पैसे कमाने आता है तो कोई अपनी कला का प्रदर्शन करने. भोजपुरी से दिलीप साहब, बच्चन साहब, धर्मेन्द्र, अजय देवगन, हेमा जी, जया जी आदि भी जुड़े. उन्होंने फर्क नहीं किया हिन्दी और भोजपुरी में. भोजपुरी उनसे सम्मानित हुई. यहां साउथ की हीरोइनों ने भी काम किया है. भोजपुरी एक ऐसी इंडस्ट्री है जहां नयों को ज्यादा ब्रेक मिलता है. मैंने खुद अपनी फिल्मों में कई नई हीरोइनों को मौका दिया. अब वे सब व्यस्त हैं. शायद सिंझिनी भी अपना नाम स्थापित कर लें. सिनेमा में काम मिलने भर की देर होती है. जिसमें टैलेंट है, उसे कोई रोक नहीं सकता. ट्रेंड होने भर की देर होती है. भोजपुरी में रीजल्ट मिलने में देर नहीं लगती है. मनोज तिवारी, दिनेश लाल यादव, पवन सिंह, खेसारी लाल आये और छा गये. ये लोग गायकी के रास्तें आये. उन्हें गांव-गांव के लोग जानते थे. इसलिये सिनेमा के पर्दे पर भी वैसा ही स्वागत किया. भोजपुरी सिनेमा के बड़े होने की ही पहचान है कि बिग बॉस में यहां के स्टारों को बुलाया जा रहा है. उसका फायदा भोजपुरी को भी मिल रहा है. दुनिया इसे जानने लगी है.

आप राजनीति और फिल्म-दानों जगह सक्रिय है. लोग आपके बारे में टिप्पणी कर रहे हैं कि आप ना इधर के रहे, न उधर के?
बोलने वालों की जुबान तो मैं बंद नहीं कर सकता. मुझे जितना प्यार फिल्मों से है उतना ही राजनीति से. यह अलग बात है कि पिछला लोक सभा चुनाव मैं हार गया मगर इससे हैसियत कम नहीं हो गई. मेरे रिश्ते जितना कांग्रस से है, उतना ही भाजपा से भी है. सबके साथ उठना, बैठना होता है. संभव है, अगला चुनाव मेरे लिये कुछ अच्छा हो जाये. जहां तक फिल्मों का सवाल है, मेरी सात हिन्दी और पांच भोजपुरी फिल्में आ रही है. हिन्दी में ’देशी मैजिक’, ’मि. टनकपुर हाजिर हो’, ग्लोबल बाबा ’तथा’ मोहल्ला असी’ प्रमुख हैं. एक मराठी फिल्म मध्यम वर्ग भी आने वाली है. भोजपुरी में बाजीगर, छोरा गंगा किनारे वाला’, ’नगीना’, ’प्रेम विद्रोही’ तथा ’रक्त भूमि’ आ रही है. मैं तो कहूंगा कि इधर भी हूं और उधर भी. राजनीति और फिल्म-दोनों मेरी जरूरत है और दोनों के लिये मैं भी जरूरी हूं. दोनों को इंज्वाय कर रहा हूं. हमेशा पॉजिटिव रहता हूं. अपनी हर लड़ाई को खुद ही लड़ता हूं.


(अर्चना उर्वशी)

Share Button

AdityaMohan
बिहार के सुपर मॉडल रह चुके आदित्य मोहन बहुत जल्द ही अपनी आने वाली भोजपुरी फिल्म “विजय पथ – एगो जंग” से धमाकेदार आगाज़ करने वाले हैं. इस बहुमुखी कलाकार की यह फिल्म पूरी तरह से ऐक्शन एवं रोमांस और माँ बेटे के रिश्तों के प्यार से भरपूर है. इस फिल्म को लेकर आदित्य बहुत ज्यादा उत्साहित हैं. इन्होंने इस फिल्म के प्रमोशन के जरिये अपने दर्शक बनाने शुरू कर दिए हैं. यह फिल्म शीघ्र ही दर्शकों के बीच में होगी.

एस एस फिल्म फैक्टरी की दूसरी प्रस्तुति इस फिल्म की निर्मात्री शाहजहान शेख, और निर्देशक संजीव बोहरपी हैं.


(रामचंद्र यादव)

Share Button

DandNayak
सिंह क्रियेशन कृत संगीतमय पारिवारिक भोजपुरी फिल्म “दंड नायक” का मुहूर्त मुम्बई के एम फॉर यू रिकॉर्डिंग स्टूडियो में धूमधाम से किया गया. मुहूर्त गीत सुप्रसिद्ध पार्श्वगायिका इन्दू सोनाली ने गाया.

फिल्म निर्मात्री पल्लवी सिंह द्वारा निर्मित की जा रही इस फिल्म “दंड नायक” में ऐक्शन, प्यार, रोमांस के साथ ही साथ सिनेप्रेमियों को मंत्रमुग्ध कर देने वाले कई आकर्षक कारनामें हैं. फिल्म निर्मात्री पल्लवी सिंह का कहना है कि “हमारी फिल्म ‘दंड नायक’ दर्शकों का मनोरंजन करने साथ-साथ समाज को सन्देश भी देगी. हमारी यह फिल्म मील का पत्थर साबित होगी.”

इस फिल्म के लेखक निर्देशक मिथिलेश अविनाश, संगीतकार छोटे बाबा, तथा गीतकार राजेश मिश्रा और अशोक सिन्हा हैं. इस फिल्म के जरिये नवोदित अभिनेता संजय धीवर बतौर हीरो अपना फ़िल्मी करियर शुरु कर रहे हैं.

फिल्म के अन्य कलाकारों का चयन जारी है.


(रामचंद्र यादव)

Share Button

K-Sujit
बिहार के मुजफ्फरपुर से आने वाले सुजीत ने साल 2008 में एम बी ए किया और मुंबई की एक अच्छी कंपनी में नौकरी करने आ गया. यहाँ आने के बाद फिल्मों के आकर्षण ने सुजीत के फ़िल्मी सफर की शुरुवात करा दी.

पर इस सफर पर निकलने से पहले सुजीत ने बाकायदा निर्देशन का कोर्स किया और उसके बाद हिंदी निर्देशकों के साथ बतौर सहायक अनुभव प्राप्त किया. इस दौरान सुजीत ने दो लघु हिंदी फिल्में और दो लघु अंग्रेजी फिल्में बनाई. इनकी अंगरेजी फिल्मों को राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल में काफी सराहना भी मिली.

इसके बाद सुजीत ने दो भोजपुरी फिल्मों का निर्देशन किया. पहली फिल्म थी ‘राम बनइलन जोड़ी’ जो अगले साल फरवरी में प्रदर्शित होगी. दूसरी फिल्म ‘हम हँई धरती के बेटा’ ७ नवंबर को प्रदर्शित हो रही है. ‘हम हई धरती के बेटा’ भूमाफियाओं पर आधारित फिल्म है. भूमाफिया गाँव के गरीब किसान पर किस तरह अत्याचार करते हैं, उनका शोषण करते हैं यही इस फिल्म में दिखाया गया है. फिल्म में सुदीप पाण्डेय, दीपक भाटिया, सुरनील सिंह मणि ने काफी बढ़िया काम किया है.

सुजीत की आने वाली फिल्म है हिंदी में ‘मजहब द टेंशन’ जिसे पाठक जी ने लिखा है. दो भोजपुरी फिल्में भी हैं ‘सिंघम का बाप’ और ‘केहु नइखे आपन’


(संजय भूषण पटियाला)

Share Button

Nagina-Chintu
भोजपुरी की अब तक की सबसे हाईटेक फिल्म ‘नगीना’ के ट्रेलर को देखकर हिंदी और साउथ के निर्माता निर्देशक भी अवाक रह गए. सोचने लगे कि क्या इस तरह की फिल्मे भी भोजपुरी में बनती है.

उनके सवालों का जवाब है कि राजकुमार आर.पाण्डेय जैसा होनहार निर्देशक जिस इंडस्ट्री में है उस इंडस्ट्री का कोई भी बाल बाँका नहीं कर सकता. दूसरे भाषा के निर्देशकों और निर्माताओ से कभी-कभार सुनने को मिलता था की भोजपुरी फिल्मे खेत और आँगन तक ही सीमित रहती हैं. हीरो गमछे और ठुमके के अलावा कुछ नहीं कर सकता. निर्देशकों को ढंग से एक्शन कराना नहीं आता. अब उन लोगो का जवाब है ‘नगीना’ जिसका ट्रेलर दर्शको में धूम मचा रहा रहा है.

दीपावली एवं छठ के महापर्व पर यह फिल्म एक जश्न का माहौल लेकर प्रदर्शित हो रही है. ‘नगीना’ एक रोमांचित कर देने वाली हैरतअंगेज ड्रामा फिल्म है जिसमे एक्शन, संगीत एवं रोमांस का भरपूर मसाला है. दर्शको को यह फिल्म एकबार नहीं बार-बार देखने आने को मजबूर कर देगी.


(संजय भूषण पटियाला)

Share Button

VishalSingh3
हिन्दी फिल्मों या दक्षिण भारतीय फिल्मों में भले आपको एक्शन स्टारों का भरमार मिल जायेगा मगर भोजपुरी फिल्मों में एक्शन स्टार की संख्या बहुत ही कम है. अब भोजपुरी फिल्मों को भी अपना पहला रियल एक्शन स्टार मिल गया है . और यह हैं विशाल सिंह.

विशाल सिंह की खास बात यह है कि वे बिना किसी केबल या वायर के जबरदस्त स्टंट करते हैं और स्टंट करते समय हवा में खूब उड़ान भरकर खलनायकों के दांत खट्टे कर देते हैं. हवा मेंं वे इतना खतरनाक खतरनाक स्टंट करते हैं कि जो भी विशाल सिंह का स्टंट देखता है दंग रह जाता है. विशाल का खतरनाक स्टंट आपको देखने को मिलेगा फिल्म ‘हथियार’ में जिसमें विशाल के साथ एक्शन स्टार विराज भट्ट् की भी मुख्य भुमिका है.

मूलत: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के रहने वाले विशाल ने फिल्मों में आने से पहले बकायदे स्टंट की ट्रेनिंग ली और बाद में वह मुंबई आए. यहां आने के बाद विशाल सिंह ने काफी संघर्ष किया. इसी बीच उनकी मुलाकात हुई ‘हथियार’ फिल्म के निर्देशक जगदीश शर्मा से जिन्हें एक ऐसे स्टार की जरुरत थी जो स्टंट में लाजवाब हो. जगदीश शर्मा ने विशाल का स्टंट देखा और साथ ही अभिनय क्षमता भी और तुरंत अपनी फिल्म ‘हथियार’ के लिये साईन कर लिया.

जगदीश शर्मा कहते हैं विशाल लाजवाब है और मेरी फिल्म ‘हथियार’ में उसने जमकर मेहनत किया. मुझे विशाल से काफी उम्मीद है.


(शशिकांत सिंह)

Share Button