mantu-chintu
छठ के महान पर्व पर गीत संगीत, मारधाड़, हास्य, स्नेह, प्यार, ख़ुशी-गम, विरह एवं उच्च तकनीकं से सजी-धजी राजकुमार आर.पाण्डेय की फिल्म ‘नगीना’ रिलीज़ होने जा रही है जिसमे मन्टुलाल नजर आएँगे.

‘नगीना’ के बाद निर्माता धीरेन्द्र चौबे की खूबसूरत एवं महत्वाकांक्षी फिल्म ‘छोरा गंगा किनारे वाला’ फिल्म में एक चुनौतीपूर्ण जबरदस्त भूमिका में भी मंटूलाल दर्शको के बीच अपने अभिनय का जलवा बिखेरते नजर आएँगे.

मंटूलाल को हाल ही में युवा डायनामिक निर्देशक प्रशांत जी एवं युवा कहानीकार कुंदन शुक्ला ने रवि किशन फिल्म प्रोडक्शन के बैनर तले बननेवाली महत्वकांक्षी भोजपुरी फिल्म ‘पंडित जी बताई ना बियाह कब होई 2′ में मुंशी ईमान सिंह की एक महत्वपूर्ण भूमिका के लिए भी मंटूलाल को अनुबंधित किया है. इस फिल्म की मुख्य भूमिका में सुपर स्टार रवि किशन हैं.


(संजय भूषण पटियाला)

Share Button

NehaShree1
राजस्थानी सिनेस्टार नेहाश्री अब भोजपुरी सिनेमा की भी लाडली बन गयी हैं.

चुलबुली, चंचल, मोहक अदा व मादक नृत्य से बरबस ही सिनेप्रेमियों को रिझाने में माहिर अदाकारा नेहाश्री ने अपना एक अलग मुकाम हासिल कर लिया है. भोजपुरी फिल्म ‘लाडला’ में नेहाश्री के सरल, सहज और ध्यान आकर्षक अभिनय और नृत्य से प्रभावित होकर इस फिल्म की पूरी टीम इनके अभिनय की तारीफ करते नहीं थकती.

भोजपुरी सुपर स्टार खेसारी लाल यादव की 25वीं भोजपुरी फिल्म ‘लाडला’ में राजस्थानी सिनेस्टार नेहाश्री और खेसारी लाल यादव एक साथ रूपहले परदे के जरिये सिनेप्रेमियों से छठ पूजा महापर्व पर रूबरू होने वाले हैं. कृति इंटरटेनमेंट प्रस्तुत तथा रंजीत सिंह इंटरटेनमेंट व आस्था आर्ट कृत भोजपुरी फिल्म ‘लाडला’ छठ के पावन पर्व पर बिहार और झारखण्ड में प्रदर्शित की जा रही है.

इस फिल्म के निर्माता रंजीत सिंह तथा नीलाभ तिवारी हैं. इस फिल्म का कुशल निर्देशन प्रेमांशु सिंह ने किया है. कथा, पटकथा, संवाद नन्हे पाण्डेय ने लिखा है. इस फिल्म के सह निर्माता भी नन्हे पाण्डेय हैं.


(रामचन्द्र यादव)

Share Button

ShwetaMishra
इंडियन फिल्म इंडस्ट्री में अभिनय के दमपर सिनेप्रेमियों के दिल पर राज करने का बुलंद इरादा बना चुकी चुलबुल अभिनेत्री श्वेता मिश्रा ग्लैमर की दुनियाँ में मज़बूत कदम रख चुकी हैं. कई फिल्मों, धारावाहिक और अल्ल्बम में अदाकारी के जरिये दर्शकों को दीवाना बना चुकी हैं. हाल ही में श्वेता ने देशी बिट प्रस्तुत भोजपुरी एलबम छू छा के छोड़ देब में चार गानों में मनमोहक अदाकारी और मादक नृत्य किया है. शीघ्र ही यह म्यूजिक वीडियो रिलीज होने वाला है.

श्वेता मिश्रा ने बताया कि मैं मूलत गोपालगंज (बिहार) से हूँ मगर लालन- पालन व पढ़ाई लिखाई दिल्ली से हुई है. अभिनय मुझे मेरी माँ सुमन मिश्रा से विरासत में मिला है. माँ ही मेरी आदर्श है. आज मैं जो कुछ भी हूँ वो अपनी माँ की वजह से हूँ. मेरी माँ रंग-मंच से लेकर टीवी धारावाहिक और सिनेमा रूपहले परदे तक अपने अभिनय के माध्यम से अलग पहचान बनायी हैं. उन्हीं के नक़्शे कदम पर चलते हुए मैं भी अपना अलग मुकाम बनाना चाहती हूँ. मेरा सपना है की मैं बॉलीवुड की नंबर वन अभिनेत्री बनूँ ताकि लोग मुझे लम्बे समय तक याद रखें. श्वेता मिश्रा की शीघ्र ही प्रदर्शित होने वाली हिन्दी फिल्में – हमज़मी, दि हट, फरेब और तू ही रे इत्यादि हैं.


(रामचन्द्र यादव)

Share Button

AHIR-Ram-DeepaYadav
साउंड स्टेशन के तले बैनर निर्मित की गई भोजपुरी फिल्म – अहीर का ऑफिसियल प्रोमो लॉन्च किया गया है. जिसे यू ट्यूब पर बहुत पसंद किया जा रहा है.

निर्मात्री दीपा आर यादव द्वारा निर्मित की गई इस फिल्म के सिनेमेटोग्राफर एव निर्देशक राम यादव हैं. लेखक घनश्याम प्रेमी के लिखे हुए संवाद बहुत ही सरल और मधुर हैं. कर्णप्रिय संगीत साउंड स्टेशन द्वारा बनाया गया है. गीत लिखे हैं प्यारे लाल यादव कवि, रमेश यादव कवि, मुन्ना मोहित और घनश्याम प्रेमी ने. मारधाड़ – शिवा, कोरियोग्राफर – एम टी आर, कला व रूप सज्जा – अशोक विश्वकर्मा का है. निर्माण प्रबंधक – संजय दूबे, सह निर्माता – निर्मला रामायण यादव एवं विभा एस दूबे हैं. मुख्य कलाकार – बिरहा सम्राट ओम प्रकाशसिंह यादव, सिम्मी जैस, संजय दूबे, दिनेश राय, अशोक विश्वकर्मा, राजेश यादव, अशोक मौर्या, तौफीक भोजपुरिया, शोभानाथ पाल, अकरम जौनपुरी, ओ पी यादव, अमलेश यादव, अजीत यादव इत्यादि हैं. आईटम गीत पर नृत्य किया है ज्योति, पिंकी, रानी और निशा ने.





(रामचन्द्र यादव)

Share Button

Viraj-Vishal-Hathiyar
भोजपुरी फिल्मों के दो दो एक्शन स्टारों को आप जल्द ही हथियार चलाते देख पांयेगे भोजपुरी फिल्म ‘हथियार’ में. इसमें भोजपुरी फिल्मों के एक्शन स्टार विराज भट्ट और एक्शन किंग विशाल सिंह एक साथ मिलकर दुश्मनों के दांत खट्टे करते हुये नजर आयेंगे.

राधा रामधारी प्रोडक्शन के बैनर तले बन रही भोजपुरी फिल्म ‘हथियार’ का निर्देशन किया है जाने माने निर्देशक जगदीश शर्मा ने. फिल्म के निर्माता हैं रामधारी सिंह. फिल्म की कहानी लिखी है संजय सुहाना ने. फिल्म को कैमरे में खुबसुरती से कैद किया है महेन्द्र बोरिचा ने जबकि संपादक हैं गुरुजंत सिंह. मारधाड़ निर्देशक हैं हीरा यादव. नृत्य रिकी गुप्ता का है. हथियार फिल्म के लाईन प्रोड्यूसर हैं हनीफ दीपा. कला भाष्कर तिवारी का है और कार्यकारी निर्माता हैं महेश उपाध्याय.

इस भोजपुरी फिल्म में विराज भट्ट के साथ साथ विशाल सिंह जहां नायक हैं वहीं इन दोनो नायकों की नायिकायें हैं रिंकू घोष और अपूर्वा विष्ट. साथ में हैं संजय पांडे, बृजेश त्रिपाठी, युगांत पांडे, पुष्पा वर्मा, जे.पी. सिंह,हीरा यादव, देव सिंहऔर अन्य. इस फिल्म में दर्शकों की पसंद पर दो दो आयटम नंबर भी रखा गया है जिसे डांसिंग क्वीन सीमा सिंह के साथ साथ ग्लोरी और प्रिया सिंह के उपर फिल्माया गया है.

इस फिल्म को लेकर निर्माता रामधारी सिंह तथा निर्देशक जगदीश शर्मा के साथ साथ फिल्म के नायक विराज भट्ट और विशाल सिंह काफी उत्साह में हैं. जगदीश शर्मा का तो साफ कहना है कि विराज और विशाल इस फिल्म के डबल बैरल हथियार हैं और जब ये दोनो न्याय के लिये हथियार उठाते दिखाई देंगे तो दर्शकों को रोंमांच का पुरा मौका मिलेगा.


(शशिकांत सिंह)
हथियार, विराज भट्ट, विशाल सिंह

Share Button

KabhiKhusiKhabhiGam
मयूरी पायल इंटरटेनमेंट और एस.ए.एस इंटरनेशनल फिल्मस के बैनर तले इसे बना रहे हैं निर्माता कृष्णा कुमार और समरेन्द्र सिंह. निर्देशक हैं अजय कुमारझा. कहानी लिखा है अरविन्द तिवारी ने.

भोजपुरी फिल्म ‘कभी खुशी कभी गम’ में भोजपुरी फिल्मों के सुपर स्टार खेशारी लाल यादव के साथ ही दमदार अभिनेता कृष्णा कुमार, अक्षरा सिंह, प्रियंका पांडे, संजय पांडे, अयाज खान, अनुप अरोड़ा, हीरा लाल यादव, माया यादव, सुनीता सिंह, रामनरेशश्रीवास्तव, भानू पांडे, श्रृद्धा नवल, उल्हासजी, युगांत ,बबलू ,संगीता और प्रिया पांडे मुख्य भुमिका में हैं.

निर्देशक अजय कुमार झा का कहना है कि इस फिल्म का हिन्दी फिल्म ‘कभी खुशी कभी गम’ से कुछ भी लेना देना नहीं है बल्कि यह भोजपुरी फिल्म अलग तरीके की फिल्म है और इसकी कहानी भी अलग है.

कार्यकारी निर्माता हैं महेश उपाध्याय. संगीतकार अविनाश झा घुंघरू, गीतकार प्यारे लाल यादव, अरविन्द तिवारी और आजाद सिंह, मारधाड़ निर्देशक हीरा लाल यादव, कैमरामैन प्रमोद पांडे, कला निर्देशक भाष्कर तिवारी, और नृत्य निर्देशक राम देवन और संजय कोर्बे हैं.


शूटिंग रिर्पोट


मड आयलैंड में हुई ‘कभी खुशी कभी गम’ की शूटिंग की रिपोर्ट

खेसारी लाल -कृष्णा के बीच टशन

भोजपुरी सिनेमा के सुपर स्टार खेसारी लाल यादव और एक्शन स्टार कृष्णा के बीच अभी छत्तीस का आकड़ा बन गया है. मड आयलैंड में बने नायर बंगलो में दोनो के बीच ठन गयी और यह टशन एक इंतकाम के रुप में विकराल होता जा रहा है. मामला क्यों तुल पकड़ रहा है और मामला क्या है यह जानने के लिये हम पहुंचे फिल्म के सेट पर. अंदर जाने पर पता चलता है कि थोड़ी देर में एक टशन मारधाड़ निर्देशक हीरा लाल यादव के बीच भी होने वाली है. हीरा लाल और खेसारी लाल यादव के बीच मारपीट की वजह है कैटरिंग के पैसे को लेकर . हीरा लाल अपने को हीरो हीरा लाल समझते हैं और वह पैसे का भुगतान करने को राजी नहीं हैं. उधर खेसारी लाल यादव कहते हैं कि मेरे सामने अच्छे अच्छे हीरो जीरो बन जाते हैं. बस शुरु हो जाती है जंग. हीरा के आदमी खेसारी लाल पर टूट पड़ते हैं. लेकिन उल्टा हो जाता है और खेसारी लाल यादव ही उल्टे हीरा लाल के आदमियों को तोड़ देते हैं. यह देखकर कृष्णा भी खूब मजे लेते हैं.

‘कभी खुशी कभी गम’ की शूटिंग इन दिनों मुंबई तथा आसपास में काफी तेजी से चल रही है और इसे अगले साल होली पर रिलीज करने की योजना है.


(शशिकांत सिंह)

Share Button

RaviKishan-neta
अब तक २०० से ज्यादा भोजपुरी और ५० से भी ज्यादा हिंदी फिल्मो में काम करने वाले सुपरस्टार रवि किशन की अब तक सभी फिल्मे सुपरहिट होती आई है और आगे भी होती रहेगी क्योंकि रवि को उनके दर्शको का हमेशा प्यार मिलता रहा है यही कारण है की रवि की अनगिनत फिल्मे अब प्रदर्शन के लिए तैयार है क्योंकि रवि अपने दर्शको के मनोरंजन के लिए फिल्मे करते है ताकि उनके दर्शको के मनोरंजन में कोई कमी न हो .हाल ही में उनकी फिल्म ‘योद्धा ‘ और छपरा के प्रेम कहानी को दर्शको ने बहुत पसंद किया .और अब उनकी एक के बाद एक कई फिल्मे प्रदर्शन के लिए तैयार है.

रवि किशन के पास कई फिल्मो के ऑफर आते है पर उनके पास समय न होने की वजह से वह कई फिल्मो को नहीं कर पाते .रवि के पास इतनी फिल्मे है जिसकी वजह से वे अब तक़रीबन २ साल तक के लिए व्यथ है .रवि जी की सफलता को देख भोजपुरी इंडस्ट्री में ऐसे भी कई लोग है जो उन्हें अपना दुश्मन मानते है पर उन लोगो से भी रवि बहुत प्यार करते है और ऐसे लोगो के लिए रवि कहते है” मैं जनता हूँ कई लोग मुझे प्यार नहीं करते और कइयों को मेरी सफलता में परहेज भी है पर मुझे उन सभी से कई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि मेरे चाहने वाले इतने है की मुझे उनके अलावा और कुछ नहीं दीखता .और जो लोग मुझे पसंद नहीं करते मैं उनकी भी सफल जीवन की कामना करता हूँ .”

अपने हर फिल्मे में एक नया किरदार लेकर आने वाले रवि की बहुत जल्द फिल्म ‘बाज़ीगर’ प्रदर्शित होने जा रही है जिसमे रवि एक नए लुक में नजर आएँगे .इसके अलावा रवि की कई फिल्मे है जिनमे नगीना ‘रक्तभूमि ‘ प्रेमविद्रोही ‘छोरा गंगा किनारे वाला ‘ जैसे कई फिल्मे प्रदर्शन के लिए तैयार है .


(संजय भूषण पटियाला)

Share Button

ManojDwivedi
उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले के रहने वाले मनोज द्विवेदी मुंबई आए थे गायक बनने, मगर बन गए एक्टर. वे मानते हैं कि उन्हें कामयाबी पहले ही मिल गई थी लेकिन वे उसे समझ नहीं पाए और इसलिए भुना नहीं पाए. अब फिर एक बार पूरी तरह से एक्टिंग की ऊंचाई छूने की कोशिश में हैं. उनसे हुई बातचीत के अंश :

मुंबई क्या सोचकर आए थे और वहां तक पहुंचने में कितने सफल हुए?
गायक बनने वर्ष 2000 में मुंबई आया था. बचपन से गायकी का शौक था. हालांकि घरवाले चाहते थे कि पढ़-लिखकर कुछ बड़ा पद पा लूं. पढ़ाई-लिखाई कुशीनगर में हुई. मैं यहीं पैदा हुआ. पॉलिटिकल साइंस में दिलचस्पी थी मगर मन के किसी कोने में गायक बनने की इच्छा ज्यादा प्रबल थी. लोग मेरी गायकी की तारीफ करते थे. मुझे भी लगा कि इसके लिए मुंबई जाना ही पड़ेगा. यहां आया लेकिन जमीनी स्तर पर कुछ कर नहीं पाया. एक-दो अलबम बनाकर खुद को स्थापित करने की कोशिश की लेकिन अच्छा रिस्पांस नहीं मिला. अचानक लगा कि सपना टूट जाएगा, तब खुद को संभालने की कोशिश में असिस्टेंट डायरेक्टर बन गया. कई हिन्दी निर्देशकों के साथ काम किया. इससे तकनीकी जानकारी मिल गई. उसी दौरान यह सुझाव आया कि एक्टिंग करना शुरू कर दूं. छोटे-छोटे रोल मिलने लगे. उससे आत्मविास बढ़ने लगा और यह भी उम्मीद जगी कि मुंबई मुझे अब कुछ देने वाली है. आज मैं यह कहने की स्थिति में हूं कि मेरे दिन बदल रहे हैं. हालांकि कुछ समय पहले कामयाबी का स्वाद चख लिया था. मगर उसे या तो समझ नहीं पाया या कुछ भूल हो गई. वह दिन हाथ से फिसल गया.

यह कामयाबी भोजपुरी फिल्मों में एक्टिंग की थी या हिन्दी में बतौर सहायक निर्देशक की?
एक्टिंग में काफी अच्छे मौके मिले . अपने आपको स्थापित भी किया. इंडस्ट्री ने काम दिया और लोगों ने तारीफ की. पहला मौका बृजभूषण जी ने फिल्म ‘गंगा मिले सागर से‘ में सह नायक की भूमिका देकर मेरा उत्साह बढ़ाया. उसके बाद राजकुमार पाण्डे, बालकिशन, मंजुल ठाकुर आदि ने अपनी-अपनी फिल्मों में सेकेंड लीड दिया. लीड रोल करने का मौका केशवजी ने ‘कब आई डोलिया हमार‘ में दिया. यहीं से कामयाबी का सिलसिला चल पड़ा. ‘कट्टा तनल दुपट्टा पे‘, ‘ठोक देव‘ जैसी फिल्मों से बहुत फायदा मिला. पिछले दिनों रिलीज हु ई निर्माता अखिलेश सिंह की फिल्म ‘लहू पुकारे ला‘ की बहुत प्रशंसा हुई. इसके निर्देशक हैं मंजुल ठाकुर. मैं इस बात से खुश हूं कि निर्माता-निर्देशक ने मुझ पर भरोसा किया. इस फिल्म से मुझे बहुत फायदा मिल रहा है. मंजुल ठाकुर की दो फिल्मों के अलावा बबलू सिंह और शिवा त्रिपाठी के साथ भी आने वाला हूं.

अब तो आपकी रोजी-रोटी की समस्या खत्म हो गई होगी?
मैं यहां सिर्फ रोजी-रोटी के लिए नहीं, कुछ बड़ा करने आया हूं. गायकी फिसल गई लेकिन एक्टिंग में जम गया. मुझे बचपन से एक्टिंग का भी शौक था. मिथुन चक्रवर्ती का फैन था. आज भी उनके साथ काम करने की इच्छा है. हालांकि पहले परिवार के लोग मुझसे नाराज थे, अब वे खुश हैं. उनकी उम्मीदों पर खरा उतर रहा हूं. सबसे ज्यादा सपोर्ट मां ने किया. अब अपनी नई कामयाबी को मां को समर्पित करूंगा. चाहता तो हिन्दी में भी काम कर सकता था लेकिन वहां संघर्ष ज्यादा था. भोजपुरी मेरी मातृभाषा है, यहां सारे लोग अपने जैसे लगे. इसलिए यहां काम करना आसान हो गया है. हां, अगर हिन्दी में कुछ अच्छा मौका मिला तो वह जरूर करूंगा.


(संजय भूषण पटियाला)

Share Button

JaanTereLiye-RakeshMishra
भोजपुरी स्टार राकेश मिश्रा व स्टार अदाकारा शुभी शर्मा की जोड़ी ‘जान तेरे लिए’ में दिखेंगी. इन्द्रा फिल्मस् इंटरनेशनल के बैनर तले बन रही इस फिल्म की शुटिंग इन दिनों लखनऊ से सटे शुक्ला बजार के विभिन्न लोकेशनों पर की जा रही है. निर्माता संजय सिंह राजपुत व भुपेन्द्र विजय सिंह की इस फिल्म में राकेश मिश्रा बैंड पार्टी में कैशियोप्लेयर की भूमिका में हैं, जो विधायक की बेटी शुभी शर्मा से दिल लगा बैठता है. दोनों कैसे एक दूसरे को समाज से लड़कर पाते हैं, यही फिल्म का सार है. फिल्म में राकेश मिश्रा, शुभी शर्मा के साथ प्रिया शर्मा, मनोज महेश्वर, कनुप्रिया शर्मा, ब्रजेश त्रिपाठी, आनंद मोहन, गोपाल राय, वंदिनी मिश्रा, राजु सिंह माही व आलोक यादव की प्रमुख भूमिका है. फिल्म में डांसिग क्वीन सीमा सिंह विशेष गाने पर थिरकते दिखेंगी. फिल्म का निर्देशन सुजीत कुमार कर रहे हैं. फिल्म के छायंकन श्यामल चक्रवर्ती, लेखक संजय राय, संगीतकार घुंघरू, नृत्य कानू मुखर्जी, संपादक दीपक जऊल, एक्शन हीरा यादव व प्रचारक प्रशांत निशांत हैं.


(प्रशांत निशांत)

Share Button

Nirahua-Dada
भोजपुरी सिनेमा की प्रसिद्ध फिल्म प्रस्तुतकर्ता कंपनी आदिशक्ति इंटरटेनमेंट भोजपुरी की पहली इंडो-पाक फिल्म ‘पटना टू पाकिस्तान’ को प्रस्तुत कर रही है. हाल ही में इस फिल्म के लिए निर्माता अनंजय रघुराज ने आदिशक्ति इंटरटेनमेंट से हाथ मिलाया है. ‘पटना टू पाकिस्तान’ में जूबली स्टार दिनेशलाल यादव ‘निरहुआ’, आम्रपाली, काजल राघवानी, की प्रमुख भूमिका है. फिल्म के लेखक निर्देशक संतोष मिश्रा हैं. आदिशक्ति इंटरटेनमेंट के दुर्गा प्रसाद कहते हैं कि आदिशक्ति व निरहुआ की साथ वाली सभी फिल्में बॉक्स ऑफिस पर करिशमाई व्यवसाय करती हैं, इसका ताजा उदाहरण ‘निरहुआ हिन्दुस्तानी’ है. ‘पटना टू पाकिस्तान’ भी बॉक्स ऑफिस पर करिशमा करेगी. फिल्म की फाईनल शुटिंग शेडयूल इसी हफ्ते शुरू हुई है.


(प्रशांत निशांत)

Share Button